अब-सीखेंगे-सब-सीखेंगे

DIGITAL MARKETING AND SEO IN HINDI

आप सीखेंगे

ये जरूर पढ़िए

digital-marketing-kya-hai

Digital Marketing Kya Hai

डिजिटल मार्केटिंग यानी किसी भी प्रोडक्ट की डिजिटल माध्यम से मार्केटिंग की जाए। ऐसे माध्यम जो इंटरनेट पर मौजूद हो। और यूजर्स भी आसानी से मौजूद हो। डिजिटल मार्केटिंग करने के माध्यम कुछ इस तरह है Facebook, Instagram, YouTube, Website, इनके अलावा और बोहत सारे ऐसे माध्यम है जिनके मदत से डिजिटल मार्केटिंग की जा सकती है। अगर आपके पास ऐसा कोई प्रोडक्ट है जिसके ग्राहक इंटरनेट पर उपलब्ध हो तो आप डिजिटल मार्केटिंग के जरिये उस ग्राहक तक बोहत ही आसानी से और कम खर्चे में पहुच सकते हो। अगर आप ट्रेडिशनल मार्केटिंग करते हो और कभी आपने कोई विज्ञापन किया तो वह विज्ञापन ऐसे लोगों को भी दिखाई देता है जिन्हें आपके विज्ञापन से कोई मतलब न हो। इससे आपका खर्चा बढ़ जाता है और बिज़नेस भी कम होता है। और आप डिजिटल मसर्केटिंग के जरिये किसी भी यूजर को उसके इंटरेस्ट के मुताबिक विज्ञापन दिखा सकते हो।

seo-kya-hai

SEO Kya Hai

SEO का फुल फॉर्म Search Engine Optimization होता है। SEO यह एक ऐसा प्रोसेस होता है जिसे गूगल या अन्य सर्च इंजन के Guidelines को नजर में रखते हुए फॉलो करना होता है। SEO यानि ऐसा प्रोसेस जिसमे आप आपकी वेबसाइट को गूगल या अन्य सर्च इंजन में अच्छे पोजीशन पर रैंक करा सकते हो। SEO करने के लिए आपको अच्छे से अच्छा कंटेंट वेबसाइट पर डालना होता है, ताकि जब भी कोई यूजर सर्च इंजन में कुछ भी सर्च करेगा तो उसे बिलकुल वैसा ही कंटेंट मिलना चहिए जिससे उसकी मदत हो सके। आपको हमेशा यह चीज ध्यान में रखनी है जो भी कंटेंट आप वेबसाइट में डालोगे उसमे Keywords का सही तरह से इस्तेमाल किया हो। कीवर्ड्स आपको अच्छी पोजीशन पर रैंक कराने के लिए बोहत ही काम आते है। SEO के कुल ३ प्रकार होते है। On Page SEO, Off Page SEO, और Technical SEO.

seo-kya-hai
blogging-kya-hai

Blogging Kya Hai

कुछ सालो पहिले लोग अपने इंटरेस्ट से जुड़ी चीजो को एक डायरी में लिखा करते थे। जिसे पर्सनल डायरी भी कहा जाता है। ब्लॉग को शुरवाती दिनों में web log कहा जाता था। ब्लॉग की शुरुवात इंटरनेट के चलते हुई। ब्लॉग यह एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसपे कोई भी व्यक्ति अपने इंटरेस्ट या अनुभव को लिख कर लोगो तक पहुच सकता है। इसकी जब शुरुवात हुई थी तब लोग सिर्फ अपने नॉलेज को शेयर करने के लिए इसका इस्तेमाल करते थे। पर आज ब्लॉग लिख कर आप बोहत सारा पैसा भी कमा सकते है। ब्लॉग यह दिखने के लिए एक वेबसाइट जैसे ही होता है। पर इसमे फर्क इतना है कि वेबसाइट बनाने में आपको बोहत खर्चा आता है। और ब्लॉग फ्री में या बोहत कम खर्चे में भी बना सकते हो। और ब्लॉग वेबसाइट के मुकाबले चोट होता है।बब्लॉगिंग यानी अच्छे तरह से ब्लॉग का setup करना और रेगुलर ब्लॉग पे अच्छे स अच्छा कंटेंट डालना। आज कल बोहत सारे लोग blogging करने में ही अपना कैरियर बनाते है और ढेर सारा पैसा भी कमाते है।